Wednesday, February 28, 2024
No menu items!
Homeअपना शहरशैक्षणिक संस्थान हनोमान प्रसाद वर्मा इंटर कॉलेज में भी गणतंत्र दिवस का...

शैक्षणिक संस्थान हनोमान प्रसाद वर्मा इंटर कॉलेज में भी गणतंत्र दिवस का पर्व धूमधाम के साथ मनाया गया। समय व्यूज संवाददाता हकीम आजाद

शैक्षणिक संस्थान हनोमान प्रसाद वर्मा इंटर कॉलेज में भी गणतंत्र दिवस का पर्व धूमधाम के साथ मनाया गया।


समय व्यूज संवाददाता हकीम आजाद

*बलरामपुर* रेहरा बाजार सहित ग्रामीण क्षेत्र के सभी शैक्षणिक संस्थानों में गणतंत्र दिवस का पर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। शैक्षणिक संस्थानों में सुबह ध्वजारोहण किया गया तथा अध्यापकों और बच्चो के द्वारा देश प्रेम का संकल्प लिया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में देशभक्ति, लोक संस्कृति और सामाजिक समस्याओं का मंचन करते हुए बच्चो के द्वारा एक से बढ़कर एक मनमोहन कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। इसी कड़ी में रेहरा बाजार के प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थान हनोमान प्रसाद वर्मा इंटर कॉलेज में भी गणतंत्र दिवस का पर्व धूमधाम के साथ मनाया गया। सर्वप्रथम विद्यालय के प्रबंधक डॉ रजत वर्मा तथा प्रधानाचार्य महेश कुमार वर्मा के द्वारा ध्वजारोहण किया गया तथा विद्यालय के छात्राओं ने मनमोहन ढंग से राष्ट्रीय गीत जन गण मन अधिनायक जय हे प्रस्तुत किया। तत्पश्चात विद्यालय के डायरेक्टर डॉ रजत वर्मा के द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर पुष्प समर्पित कर दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के वरिष्ठ अध्यापक ज्ञान चंद्र तिवारी के द्वारा किया गया।कार्यक्रम की शुरुआत विद्यालय के छात्राओं द्वारा सरस्वती वंदना का गायन किया गया। विद्यालय के छात्र-छात्राओ के द्वारा मनमोहक ढंग से एक से बढ़कर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। इस अवसर पर विद्यालय के डायरेक्टर डॉ रजत वर्मा ने कहा कि देश इस साल अपना 75वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। 26 जनवरी का दिन हर भारतीय के लिए बेहद खास होता है। यह दिन भारतीय नागरिकों की लोकतांत्रिक रूप से अपनी सरकार चुनने की शक्ति को दर्शाता है। भारत के इतिहास में यह दिन कई तरह से महत्वपूर्ण है। यही वजह है कि इस दिन को हम सभी भारतवासी हर्षोल्लास और उत्साह के साथ मनाते है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत में गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है दरअसल, हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस इसलिए मनाया जाता है, क्योंकि इसी दिन पूरे देश में संविधान लागू किया गया है। 26 जनवरी, 1950 को संविधान लागू होने के साथ ही भारत को पूर्ण गणराज्य घोषित किया गया था। यही वजह है कि हर साल इस खास दिन की याद में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। साल 1947 में भारत को मिली आजादी के बाद इसे लोकतांत्रिक बनाने के मकसद से देश का संविधान बनाना शूरू किया गया। 2 साल 11 महीने और 18 दिन में बनकर तैयार हुए भारत के संविधान को 26 नवंबर, 1949 में देश की संविधान सभा ने स्वीकार किया। इसके बाद अगले ही साल 26 जनवरी, 1950 को पूरे देश में यह संविधान लागू किया गया था। इस अवसर पर विद्यालय के प्रभारी चंद्रभान वर्मा ,रामदेव वर्मा, सहायक अध्यापक राजमणि मिश्रा, बीके श्रीवास्तव ,प्रेम कुमार वर्मा, ऋषभ शुक्ला,अवनीश कुमार सिंह, महेश्वरी प्रसाद तिवारी, रोहित वर्मा ,अवधेश कुमार शुक्ला, शिवा चंद्र वर्मा ,दीपिका मिश्रा, अंकिता शर्मा , महिमा शुक्ला, ज्ञान प्रकाश तिवारी, रामकुमार वर्मा, प्रियंका गुप्ता, प्रियंका वर्मा,पूजा वर्मा , आरती, हरी राम वर्मा , अनीता देवी समेत क्षेत्र के काफी संख्या में गण मान्य लोग मौजूद रहे

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular